UP Jansankhya kanoon Draft pdf! यूपी जनसंख्या नियंत्रण कानून नीति

UP Jansankhya Kanoon Draft pdf Obtain in Hindi upslc.upsdc.gov in यूपी जनसंख्या नियंत्रण कानून नीति Inhabitants Management invoice 2 youngster coverage. उत्तर प्रदेश, कुल जनसंख्या 23.40 करोड़ के लगभग है। जो की पुरे देश की जनसंख्या का में भी भूमिका निभाती है। कल यानि की 11 जुलाई 2021 को विश्व जनसंख्या दिवस था। इसके उपलक्ष में उत्तर प्रदेश मुख्य मंत्री श्री योगी आदित्य नाथ जी ने UP Jansankhya Kanoon Draft Pdf की घोषणा की है।

UP Jansankhya Kanoon Draft pdf

प्रदेश की बढ़ती आबादी की वजह से बहुत सी समस्या भी आगे चल कर बढ़ेंगी। ऐसे में सरकार जनसंख्या नियंत्रण कानून नीति के साथ इसे रोकने के लिए यह कदम उठा रही है। जनसंख्या की रोकथाम जरुरी है। समय समय पर सरकार इस दिशा में कई योजनाएं व कानून का गठन करती आई है। ऐसे में लोगों को जरूरत है की वो इन कानूनों का पालन करें।

हाल हे में उत्तर प्रदेश मुख्य मंत्री द्वारा नई जनसंख्या नीति 2021 जारी करने की तैयारी कर ली है। ताकि लोग उससे जुड़े। और प्रदेश की उन्नति में साथ दें। हमारे देश में उत्तर प्रदेश की सबसे अधिक जनसंख्या वाले राज्यों में होती है। जो की अच्छी बात नहीं है। अगर आप भी इस नए कानून के बारे में जानना चाहतें हैं। तो आप हमारे लेख को ध्यान से पढ़ें। यहाँ पर यूपी जनसंख्या नियंत्रण कानून नीति से जुड़ी सभी महतवपूर्ण जानकारी उपलब्ध है।

UP Inhabitants Management Invoice 2021

सरकार इस कानून को लागू करने से पहले एक और कदम उठा रही है। योगी सरकार इस ड्राफ्ट के जरिये 19 जुलाई तक जनता की राय मांग रही है। ताकि आम जन भी अपनी तरफ से कोई सुझाव अगर देना चाहतें हैं। तो वो भी दे सकतें हैं। इसके बाद राज्य विधि आयोग जनता के विचार अनुसार अपना सुझाव राज्य सरकार को देगा।

दिए गए उप्र जनसंख्या कानून ड्राफ्ट में। मुख्यतः जनसंख्या को रोकने के बारे में जानकारी है। व उससे जुड़े नए कानून की जानकारी दी गई है। ऐसा ही एक नियम है। जिस में जिन परिवारों के दो बच्चे या उससे कम बच्चे हैं। उन्हें प्रदेश सरकार से कुछ सुविधाएँ प्रदान की जाएँगी। वही दो से अधिक बच्चे वाले परिवारों को बहुत से सुविधाओं से वंचित रखा जायेगा।

UP Jansankhya Kanoon Draft Niti

UP Jansankhya Niti 2021

अधिक बच्चे होने पर आप सरकार द्वारा दी गई। बहुत सी योजनाओं का लाभ लेने में असमर्थ हो जायेंगे। सरकार ने यह घोषणा विश्व जनसंख्या दिवस  पर की है। ताकि लोग इसके महत्व को समझें। जो लोग जनसंख्या नियंत्रण में मदद करेंगे। उन्हें भी इस नीति के तहत प्रोत्साहित किया जायेगा। ताकि ज्यादा से ज्यादा लोग इससे जुड़ें।

जनसंख्या नियंत्रण की दिशा में यह एक सराहनीय विचार है। वहीं इसमें एक और कानून और जोड़ा जायेगा। जिसके अंतर्गत जिन लोगों के दो से अधिक बच्चे हैं। उन्हें सरकारी नौकरियों में आवेदन करने से भी रोका जायेगा। नियम अनुसार उन्हें स्थानीय निकाय चुनाव लड़ने पर भी रोक लग जाएगी। यह नियम कड़े करने से हे लोग यह समझ पाएंगे की जनसंख्या को रोकना कितना जरूरी है।

लेख का नाम यूपी जनसंख्या नियंत्रण कानून नीति
घोषणा मुख्य मंत्री योगी आदित्य नाथ द्वारा
मुख्य उदेश्य प्रदेश की जनसंख्या को नियंत्रित करना
लाभकारी उत्तर प्रदेश के लोगों के लिए
आधिकारिक वेबसाइट जल्द जारी की जाएगी – coverage out there on upslc.upsdc.gov.in

उत्तर प्रदेश जनसंख्या नियंत्रण बिल 2021 

कुछ मुख्य बातें जनसंख्या कानून नीति के बारे में :

  • जैसा की सब जानते हैं। की बढ़ती जनसंख्या एहम चिंता का विषय है।
  • लोगों में इस कानून की सहायता से। जनसंख्या नियंत्रण के बारे में जागरूक किया जायेगा।
  • हर परिवार में दो बच्चों के जन्म बीच अंतराल होना चाहिए।
  • जनसंख्या नीति से लोगों को बढ़ती आबादी को रोकने का प्रावधान लाया जायेगा।
  • जनसंख्या बढ़ने से आगे चल कर बहुत सी दिक्कतें आने वाली हैं।
  • बढ़ेगी बेरोजगारी। हम आज देखतें हैं की कुछ हज़ार नौकरियों के लिए करोड़ो युवक सूची में होतें हैं। जिसका मुख्य कारण आबादी ही है।
  • पहले जनसंख्या कम होने की वजह से आय के साधन भी अधिक थे। वहीँ आज आबादी अधिक होने की वजह से प्रतिस्पर्धा में भी बढ़ोतरी हुई है।
  • कानून की सहायता से उत्तर प्रदेश सरकार अब जनसंख्या को और अधिक न बढे। यह एक कोशिश करने जा रही है।
  • सरकार यह आशा कर रही है। लोग इस बात को समझेंगे। व इस दिशा में सरकार के साथ मिलकर कार्य करेंगे।

राज्य विधि आयोग के अध्यक्ष जस्टिस एन मित्तल जी हैं। जिनका कहना है की जनसंख्या नीतियां तो हर वर्ष आती हैं। परन्तु इसके लिए कानून नहीं बनता। जिसकी वजह से लोग इन नीतियों का पालन नहीं करते हैं। नीति के अनुसार आप अनुदान और प्रोत्साहन तो दे सकते हैं। परन्तु प्रतिबंध या दंड नहीं दे सकते हैं। तो अब इस दिशा में आयोग ने एक ड्राफ्ट बनाया है। ताकि सरकार इससे संबंधित कानून बना सकें।

यूपी जनसंख्या नियंत्रण कानून नीति 2021

अगर UP जनसंख्या कानून लागू हो जाये। तो अवश्य हे लोग इसका पालन करेंगे। यह कानून सख्त होने चाहिए। ताकि लोग प्रोत्साहित हों या फिर मजबूरी में ही सही। परन्तु नियम का पालन करें। पर पहले 19 तारीख तक आयोग लोगों से सुझाव लेना चाहती है। ताकि सही से नियमों के लिए कानून बनाये जा सकें। तभी यह ड्राफ्ट उत्तर प्रदेश सरकार को सौंपा जायेगा। UP Govt 2 Youngster Coverage pdf in Hindi

प्रदेश में अगर ये नियम लागू हुए। तो इनके अंतर्गत लगभग 77 प्रदेश सरकार की योजनाओं के लाभ ऐसे परिवारों को नहीं दिए जायेंगे। जिन में दो से अधिक बच्चे हैं। वहीँ जो लोग सरकारी नौकरियों में पहले से कार्यरत हैं। उन्हें आगे चल कर मिलने वाली प्रमोशन लेने में भी दिक्कतें होंगी। वहीँ अगर सरकारी नौकरी में होते हुए। अगर सरकारी कर्मचारी के दो या इससे कम बच्चे हैं। व वे नियम अनुसार नसबंदी करवाते हैं। तो उन्हें अतिरिक्त इन्क्रीमेंट , सरकारी आवासीय योजना में छूट व प्रोमोशन जैसी सुविधाएँ मिल पाएंगी। UP Authorities two youngster coverage pdf Obtain

UP Jansankhya Management Draft Invoice

वहीँ जो अभिभावक सरकारी कर्मचारी नहीं हैं। या फिर प्राइवेट सेक्टर में कार्यरत हैं। उन्हें बिजली , पानी , होम लोन , हाउस टैक्स आदि सुविधाओं में अतिरिक्त छूट दी जाएगी। और अगर किसी अभिभावक की एक हे संतान है। और उस पर वह नसबंदी करवा लेतें हैं। तो उन्हें एक संतान के लिए 20 वर्ष तक मुफ्त इलाज , शिक्षण संस्था हेतु बिमा , शिक्षा व सरकारी रोजगार में भी प्राथमिकता दी जाएगी।

उत्तर प्रदेश में एक से अधिक शादि करने पर भी प्रावधान रखा गया है। जिसके अंतर्गत ऐसे नागरिकों को सभी पत्नियों से मिलाकर दो से अधिक बच्चें हुए तो। वह भी सरकारी योजना की सुविधाओं से वंचित किये जायँगे। यह कानून पुरुष व महिलाओं के लिए समान रूप से लागु की गयी है। जल्द हे हम आपको ड्राफ्ट संबंधित और भी जरूरी जानकारियाँ प्राप्त करवाएंगे। ताकि अपनी जागरूकता के साथ साथ आप अन्य लोगों को भी जागरूक करें।

UP Inhabitants Management Kanun pdf Obtain – Bill07072021

Official Portal Click here
MPNRC Residence Click here